घाटी में लौटे बंकर, अतिरिक्त सेना कवर

कश्मीर पिछले कुछ समय से अचानक अशांत है। पाकिस्तान से लश्कर ए तोयबा जैसे संगठन विदेशी आतंकियों और घाटी के ऑन ग्राउंड मददारों के माध्यम से आतंक फैला रहे हैं।

कश्मीर में दो महत्वपूर्ण घटनाएं हो रही हैं, एक ओर गृह मंत्री अमित शाह अनुच्छेद 370 हटने के बाद पहली बार कश्मीर पहुंच रहे हैं, दूसरी ओर आठ वर्ष बाद राजधानी में बंकरों का निर्माण शुरू हो गया है। इसके अलावा सुरक्षा बलों की 50 अतिरिक्त कंपनियां तैनात की गई हैं।

हिंदुओं पर हो रहे हमलों को देखते हुए केंद्र सरकार ने बड़ा निर्णय लिया है। जिसमें घाटी में अतिरिक्त सैन्य बलों की तैनाती की गई है। इसके अलावा श्रीनगर में बंकर बनाए गए हैं। यह बदलाव आतंकी घटनाओं में अचानक हुई बढ़ोतरी के कारण आया है।

ये भी पढ़ें – अनन्या से फिर एनसीबी ने पूछी, आर्यन की ‘वो’ बात

आतंकियों पर नकेल
राज्य में 2011 से 2014 के बीच बंकरों को हटा दिया गया था। इस काल में श्रीनगर में परिस्थिति शांत होने लगी थी, परंतु इस बार पिछले कुछ दिनों में हिंदुओं और प्रवासी मजदूरों पर हुए आतंकी हमलों के कारण सेंट्रल आर्म्ड पैरामिलिट्री फोर्सेस द्वारा सुरक्षा बंकर बनाए गए हैं। बंकर और उनमें तैनात अतिरिक्त सुरक्षा बलों से आतंकियों के स्वच्छंद विचरण पर लगाम लग जाएगा।

गृह मंत्री का दौरा
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह 23 अक्टूबर से 25 अक्टूबर के बीच जम्मू कश्मीर के दौरे पर होंगे। यह 5 अगस्त 2019 को अनुच्छेद 370 और 35ए के हटने के बाद पहला दौरा है। इस दौरान अमित शाह श्रीनगर शारजाह हवाई सेवा का उद्घाटन भी करेंगे। इसके अलावा 24 अक्टूबर को जम्मू में रैली को संबोधित करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here