जम्मू-कश्मीरः कांग्रेस में कोहराम, आजाद के समर्थन में ‘इतने’ नेताओं ने दिया सामूहिक त्याग पत्र

73 वर्षीय गुलाम नबी आजाद ने 26 अगस्त को कांग्रेस के साथ अपने पांच दशक के संबंधों को इस्तीफा सौंप कर समाप्त कर दिया। अब उनके समर्थन में कांग्रेसी पार्टी छोड़ रहे हैं।

 जम्मू-कश्मीर के पूर्व उपमुख्यमंत्री तारा चंद सहित कांग्रेस के 64 से अधिक वरिष्ठ नेताओं ने 30 अगस्त को गुलाम नबी आजाद के समर्थन में पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को एक संयुक्त त्याग पत्र सौंपा।

एक संवाददाता सम्मेलन में 30 अगस्त को तारा चंद और पूर्व मंत्री अब्दुल मजीद वानी, मनोहर लाल शर्मा, घरू राम और पूर्व विधायक बलवान सिंह सहित कई अन्य लोगों ने पार्टी की प्राथमिक सदस्यता सहित अपने इस्तीफे की घोषणा की। इस अवसर पर बलवान सिंह ने कहा कि हमने आजाद के समर्थन में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को संयुक्त त्याग पत्र सौंपा है।

आजाद ने की है अपनी पार्टी बनाने की घोषणा
जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री 73 वर्षीय गुलाम नबी आजाद ने 26 अगस्त को कांग्रेस के साथ अपने पांच दशक के संबंधों को इस्तीफा सौंप कर समाप्त कर दिया। वह जल्द ही जम्मू-कश्मीर से राष्ट्रीय स्तर की पार्टी शुरू करेंगे। आजाद के समर्थन में पूर्व मंत्रियों और विधायकों सहित एक दर्जन से अधिक प्रमुख कांग्रेस नेता, सैकड़ों पंचायती राज संस्थान (पीआरआई) के सदस्यों के अलावा, नगर निगम के नगरसेवक और जिला और ब्लॉक स्तर के नेता पहले ही कांग्रेस छोड़ चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here