इजरायल-हमास में संघर्ष तेज! जानिये, किसने कहां किया हमला

इजरायल और हमास के बीच जारी संघर्ष आगे भी बढ़ने के संकेत मिल रहे हैं। इजरायल ने कहा है कि वह गााजा सीमा पर बड़ी संख्या में सैनिक भेज रहा है।

इजरायल और हमास में संघर्ष तेज होता दिख रहा है। इजरायल ने गाजा में जमीन के नीचे सुरंग में बनाए गए हमास के ठिकानों को नष्ट करने के लिए भीषण बमबामरी की। इजरायल की तोपों से गोले बरसाए और हमास के कई ठिकानों को ध्वस्त कर दिया। यह हमला करीब 40 मिनट तक किया गया।

हमास ने भी इजरायल के यरुशलम तथा तेल अवीव सहित कई शहरों पर रॉकेट दागे हैं। इस बीच इजरायल ने कहा है कि लेबनान ने भी रॉकेट दागे हैं। हालांकि लेबनान ने इसका खंडन किया है। फल्स्तीनी अधिकारी के अनुसार अब तक 119 लोग मारे गए हैं। इनमें बच्चे और महिलाएं भी शामिल हैं। हमले में 830 से ज्यादा लोग घायल हो गए हैं।

पीएम नेतन्याहू ने चेताया
इजरायल के प्रधानमंत्री नेतन्याहू ने कहा है कि उनके पूरे अभियान को अभी थोड़ा और समय लगेगा। इस बार हमास को कड़का सबक सिखाना होगा।

और तेज होगा संघर्ष
इससे पहले 14 मई को इजरायली वायुसेना ने हमास के आंतरिक सुरक्षा मुख्यालय के साथ ही आयुध भंडार पर भी हमला किया। सेना के प्रेस सेवा से प्राप्त जानकारी के मुताबिक वायुसेना ने लड़ाकू विमानों से हमला किया। इजरायल और हमास के बीच जारी संघर्ष आगे भी बढ़ने के संकेत मिल रहे हैं। इजरायल ने कहा है कि वह गााजा सीमा पर बड़ी संख्या में सैनिक भेज रहा है। उसने संभावित आक्रमण के लिए 9,000 सैनिकों को तैयार रहने का आदेश जारी किया है।

मिस्र के मध्यस्थ इजरायल पहुंचे
इस बीच मिस्र के मध्यस्थ संघर्ष विराम के प्रयासों के लिए इजरायल पहुंच गए हैं, लेकिन इसमें उन्हें कोई सफलता मिलती नहीं दिख रही है। इजरायल ने चौथी रात भी सांप्रदायिक हिंसा होने के बाद हमले और तेज कर दिए हैं। यहूदी और अरब समूहों में लॉड शहर में झड़पें होने की खबर है।

ये भी पढ़ेंः अफगानिस्तानः ईद की खुशी मातम में बदली, मस्जिद में हुए धमाके में 12 लोगों की मौत

यहूदी-अरब हिंसा बढ़ने के आसार
इस संघर्ष ने इजरायल में दशकों बाद यहूदी-अरब हिंसा को फिर से हवा दे दिया है। लेबनान से देर रात रॉकेट दागे गए, इससे इजरायल की उत्तरी सीमा पर तीसरे पक्ष के शामिल होने का खतरा बढ़ गया है।

हमास के निर्वासित नेता का बयान
हमास के एक वरिष्ठ निर्वासित नेता सालेह अरुरी ने लंदन के एक टीवी चैनल को बताया कि उनके समूह ने बातचीत और तीन घंटे के विराम प्रस्ताव को ठुकरा दिया है। उन्होंने बताया कि मिस्र, कतर और संयुक्त राष्ट्र संघर्ष विराम के लिए मध्यस्थता कर रहे हैं, लेकिन उन्हें अभी तक इसमें कोई सफलता नहीं मिली है।

100 फ्लीस्तीनियों के मारे जाने का दावा
गाजा के स्वास्थ्य मंत्रालय ने जानकारी दी है कि हमलों में करीब 100 फ्लीस्तीनी मारे गए हैं। इनमें 28 बच्चे और 15 महिलाएं शामिल हैं। हालांकि हमास और इस्लामिक उग्रवादी समूह ने 20 लोगों के मारे जाने की पुष्टि की है।

हमास ने भी दी चेतावनी
इस बीच हमास के सैन्य प्रवक्ता अबू उबेदा ने कहा कि उनका समूह आक्रमण से डरा नहीं है। उन्होंने कहा कि किसी भी आक्रमण से सैनिकों के मारे जाने या बंधक बनाने की आशंका बढेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here