महाराष्ट्रः उद्योग-धंधों के बाहर जाने के लिए भाजपा ने ठहराया उद्धव ठाकरे को जिम्मेदार, गिनाए कारण

चंद्रशेखर बावनकुले सांगली में 13 नवंबर को पत्रकारों से कहा कि प्रदेश में निवेश करना है तो उद्यमियों से चर्चा के लिए मुख्यमंत्री को उपलब्ध रहना चाहिए।

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रशेखर बावनकुले ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की वजह से महाराष्ट्र से उद्योग-धंधे महाराष्ट्र से बाहर जा रहे हैं। उन्होंने उद्धव ठाकरे पर तंज कसते हुए कहा कि जो अपने विधायक नहीं सभाल सकता, वह राज्य के उद्योग-धंधों को भला क्या संभालेगा।

चंद्रशेखर बावनकुले सांगली में 13 नवंबर को पत्रकारों से कहा कि प्रदेश में निवेश करना है तो उद्यमियों से चर्चा के लिए मुख्यमंत्री को उपलब्ध रहना चाहिए। महाविकास आघाड़ी सरकार के दौरान मुख्यमंत्री अठारह महीने तक मंत्रालय में नहीं गए। यहां तक कि वरिष्ठ सचिवों को भी मुख्यमंत्री के दौरे का इंतजार करना पड़ता था। बावनकुले ने कहा कि उद्धव ठाकरे किसी से बात करने के लिए उपलब्ध नहीं थे। उनके समय में औद्योगिक निवेश के लिए कैबिनेट उप-समिति की बैठकें नहीं हुईं, उद्योगों को जगह नहीं दी गई, अनुबंधों पर हस्ताक्षर नहीं किए गए, पर्यावरण मंजूरी नहीं दी गई, उद्यमियों को मंजूरी नहीं दी गई। इसलिए महाविकास अघाड़ी सरकार की वजह से एक-एक प्रोजेक्ट राज्य से बाहर चला गया और दोष शिंदे-फडणवीस सरकार पर मढ़ा जा रहा है।

ये रहे मौजूद
इस अवसर पर श्रम मंत्री सुरेश खाड़े, संजय काका पाटील, सांगली शहर जिलाध्यक्ष दीपक शिंदे, सांगली ग्रामीण जिलाध्यक्ष पृथ्वीराज देशमुख, गोपीचंद पडलकर और पश्चिमी महाराष्ट्र के संभागीय केंद्रीय मंत्री मकरंद देशपांडे मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here