आम आदमी विधायकों के खरीद-फरोख्त का आरोपः भाजपा सांसदों ने एलजी से की ये मांग

मनोज तिवारी ने कहा कि अरविंद केजरीवाल गैंग पहले कहती है कि ये शराब का बहुत अच्छा रेवेन्यू मॉडल है। जब जांच शुरू होती है तो वापस ले लेते हैं।

दिल्ली के सभी भाजपा सांसदों ने उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना से मांग की है कि वह मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल एवं उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया द्वारा भाजपा पर उनके विधायकों की खरीद फरोख्त के लगाए गए आरोपों की जांच कराएं। भाजपा सांसद मनोज तिवारी, प्रवेश वर्मा, रमेश बिधूड़ी और हंसराज हंस ने 31 अगस्त को भाजपा ऑफिस में प्रेस वार्ता कर यह बात कही। सभी सांसदों ने इस संबंध में उपराज्यापाल विनय सक्सेना को चिट्ठी भी लिखी है।

मनोज तिवारी ने कहा, ‘दिल्ली में लोकतंत्र की जड़ों पर बहुत बड़ी चोट पहुंच रही है। दिल्ली में एक पर एक बड़े घोटाले हो रहे हैं। वही महाठग अरविंद केजरीवाल गैंग दिल्ली की जनता के सवालों का जवाब नहीं दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि हम सभी दिल्ली के सांसदों ने शराब घोटाले पर केजरीवाल से बार-बार सवाल किए, लेकिन उसका जवाब देने के बजाय उनकी सरकार के कई चुनिंदा लोगों ने झूठे आरोप लगाए जो सबके लिए आश्चर्य का विषय बना हुआ है।

मनोज तिवारी ने की ये मांग
मनोज तिवारी ने कहा कि जो इन्होंने भाजपा पर आरोप लगाएं है कि उन्हें भाजपा ने पार्टी तोड़ने का ऑफर दिया था। जिनको जिनको कॉल आया है, उनकी जांच होनी चाहिए, ताकि दूध का दूध और शराब का शराब हो। यह लोग शराब घोटाले को लेकर हमेशा अटेंशन बदलते गए। इस मामले की फॉरेंसिक जांच होनी चाहिए और मनीष सिसोदिया वह फोन नंबर बताएं जिस पर उन्हें फोन आया था।

आबकारी नीति पर साधा निशाना
उन्होंने कहा कि अरविंद केजरीवाल गैंग पहले कहती है कि ये शराब का बहुत अच्छा रेवेन्यू मॉडल है। जब जांच शुरू होती है तो वापस ले लेते हैं। जब जांच में सीबीआई आगे बढ़ती है तो कहते हैं कि ये एलजी दोषी हैं, फिर बोलते हैं कि मनीष सिसोदिया को खरीदने की बात हो रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here