राजनाथ की घोषणा, चुनाव जीतते ही लागू होगी समान नागरी संहिता

हिमाचल प्रदेश में 12 नवंबर को मतदान होना है। एक चरणीय मतदान के परिणाम 8 दिसंबर को आएंगे।

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने बड़ी घोषणा की है। उन्होंने कहा है कि, हिमाचल प्रदेश चुनाव जीतते ही राज्य में समान नागरी संहिता लागू की जाएगा। उन्होंने गोवा का उदाहरण देते हुए कांग्रेस पर कटाक्ष भी किया है।

हिमाचल प्रदेश चुनावों के लिए प्रचार चरम पर है। रक्षामंत्री समेत मोदी सरकार के कई मंत्री राज्य में प्रचार की कमान संभाले हुए हैं। बैजनाथ में प्रचार सभा को संबोधित करते हुए रक्षामंत्री ने महत्वपूर्ण घोषणा की…

हमने हिमाचल प्रदेश में समान नागरिक संहिता लागू करने का संकल्प किया है। कांग्रेस के लोग कह रहे हैं हम लोग यह काम वोट हासिल करने के लिए कर रहे हैं। हम समाज को बाँट कर वोट हासिल नहीं करना चाहते। गोवा में समान नागरिक संहिता वर्षों से लागू है। क्या गोवा में समाज टूट गया है।

वर्तमान राजनीति को क्रिकेट के शब्दों में कहूँ तो कहूँगा भाजपा जहां राजनीति की पिच पर ‘गुड लेंथ बाल’ डेलिवेरी बन चुकी है वहीं कांग्रेस पार्टी एक ‘वाइड बाल’ बन चुकी है। आम आदमी पार्टी की स्थिति यहाँ ‘नो बाल’ की है।
हिमाचल के मुख्यमंत्री श्री जयराम ठाकुर को मुझसे बेहतर जानते हैं। उन्होंने पाँच सालों में बहुत काम किया। कोई इस पर बहस कर सकता है मगर एक बात पक्की है कि उनके ऊपर भ्रष्टाचार का एक भी आरोप नहीं लगा है। जबकि कांग्रेस पर भ्रष्टाचार के तमाम आरोप लगे हैं।

हम जो कहते हैं वो करते हैं। समान नागरिक संहिता की बात हम जनसंघ के जमाने से करते आए हैं। हिमाचल में सरकार बनने पर हम यहाँ समान नागरिक संहिता लागू करेंगे।

ये भी पढ़ें – भाजपा ने केजरीवाल पर साधा निशाना, लगाया ये आरोप

भाजपा ने अपना संकल्प पत्र जारी किया है, जिसके मुख्य मुद्दे इस प्रकार हैं।

1. भाजपा सरकार हिमाचल प्रदेश में समान नागरिक संहिता लागू करेगी। इसके लिए विशेषज्ञों की एकगठित की जाएगी और उनके रिपोर्ट के आधार पर यूनिफ़ॉर्म सिविल कोड को लागू किया जाएगा।

2. भाजपा सरकार मुख्यमंत्री अन्नदाता सम्मान निधि की शुरुआत करेगी, जिसके अंतर्गत छोटे किसानों को सालाना तीन हजार की राशि दी जाएगी, जो प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के अंतर्गत दिए जा रहे छह हजार के अतिरिक्त होगी।

3. भाजपा सरकार चरणबद्ध तरीके से हिमाचल प्रदेश के युवाओं के लिए आठ लाख रोजगार के अवसरों का सृजन करेगी। सरकारी नौकरियों और इकॉनोमिक जोन में ये रोजगार के अवसर उपलब्ध कराये जायेंगे।

4. भाजपा सरकार यह सुनिश्चित करेगी कि अगले 5 वर्षों में राज्य के सभी गांवों को प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के अंतर्गत पक्की सड़कों यानी ऑल वेदर रोड से जोड़ा जाए। इस पर लगभग पांच हजार करोड़ रुपये का खर्च आयेगा।

5. भाजपा सरकार शक्ति नाम का एक कार्यक्रम शुरू करेगी और 12 हजार का निवेश अगले 10 सालों में करेगी जिसके माध्यम से सभी प्रमुख मंदिरों के आसपास परिवहन और भौतिक बुनियादी ढांचे को विकसित किया जाएगा। इन मंदिरों को प्रमुख शहरों से हिम सर्किट के माध्यम से विशेष बसों से जोड़ा जाएगा।

6. भाजपा सरकार सेब पैकेजिंग सामग्री पर किसानों द्वारा जीएसटी भुगतान को 12फीसदी तक सीमित कर देगी। किसी भी प्रकार की अतिरिक्त जीएसटी लागत राज्य सरकार वहन करेगी। सरकार के इस निर्णय से प्रदेश के लगभग 1.70 लाख किसानों को फायदा होगा।

7. भाजपा सरकार राज्य में पांच नए मेडिकल कॉलेज स्थापित करेगी और प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में मोबाइल क्लीनिक की संख्या दोगुनी करेगी। इसमें रेगुलर हेल्थ चेकअप की भी सुविधा उपलब्ध होगी।

8. भाजपा सरकार नौ सौ करोड़ रुपये के कोष के साथ स्टार्टअप योजना स्थापित करेगी, जिससे युवाओं के रोजगार सृजन के लिए स्टार्टअप को बढ़ावा मिलेगा।

9. भाजपा सरकार हुतात्मा सम्मान राशि योजना के अंतर्गत विभिन्न परिस्थितियों में शहीद हुए हुतात्मा सैनिकों के आश्रितों को दी जाने वाली अनुग्रह राशि में उल्लेखनीय वृद्धि करेगी।

10. भाजपा सरकार कानून के अनुसार वक्फ संपत्तियों का सर्वे कराएगी और ऐसी संपत्तियों के अवैध उपयोग की जांच करने के लिए न्यायिक आयोग गठित करेगी।

11. भाजपा सरकार द्वारा सरकारी कर्मचारियों के वेतन में विसंगतियों को दूर किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here