गुजरात सरकार ने आचार संहिता लागू होने से पहले होमगार्ड और जीआरडी जवानों को दिया ये उपहार

गांधीनगर में गृह राज्य मंत्री हर्ष संघवी की मौजूदगी में होम गार्ड सेवा सम्मान समारोह का आयोजन किया गया था।

राज्य विधानसभा चुनाव की आचार संहिता लागू होने से ऐन पहले गुजरात सरकार ने राज्य के होमगार्ड और जीआरडी जवानों के लिए मानदेय बढ़ोतरी की घोषणा कर दी है। यह जानकारी राज्य के गृह राज्य मंत्री हर्ष संघवी ने गुरुवार सुबह दी।

होम गार्ड सेवा सम्मान समारोह में की घोषणा
गांधीनगर में गृह राज्य मंत्री हर्ष संघवी की मौजूदगी में होम गार्ड सेवा सम्मान समारोह का आयोजन किया गया था। इस आयोजन में गृह राज्य मंत्री संघवी ने होमगार्ड और जीआरडी जवानों के मानदेय बढ़ाने की घोषणा की। गृह राज्य मंत्री की घोषणा के अनुसार होमगार्ड जवानों को अब सरकार रोजाना 300 रुपये के बदले 450 रुपये देगी। वहीं जीआरडी जवानों के लिए दो सौ रुपये के स्थान पर अब प्रति तीन सौ रुपये देगी। सरकार की यह घोषणा 1 नवंबर 2022 से लागू की जाएगी। मानदेय बढ़ाने से सरकार की तिजोरी पर सालाना करीब 195 करोड़ रुपये का अतिरिक्त बोझ आएगा। उन्होंने कहा कि पिछले एक साल के दौरान मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल के नेतृत्व वाली सरकार ने 5292 पुरुष और 361 महिला समेत कुल 5653 मानद होमगार्ड सदस्यों की नियुक्ति की है। उन्होंने बताया कि कुल फोर्स करीब 40 हजार है, जिसमें एक वर्ष में 14107 मानद सदस्यों की नियुक्ति की गई है। सरकार ने इस साल पुलिस विभाग के अलग-अलग संवर्ग के अधिकारियों-कर्मचारियों के लिए 750 करोड़ रुपये की वृद्धि की है।

यह भी पढ़ें – बॉम्बे उच्च न्यायालय का नाम ‘महाराष्ट्र उच्च न्यायालय’ करने की मांग वाली याचिका खारिज

मानदेय बढ़ाने की सूचना जारी
3 नवंबर को गुजरात चुनाव के लिए मुख्य चुनाव आयोग की कार्यक्रम की घोषणा करने पहले राज्य सरकार की होमगार्ड और पीआरडी जवानों का मानदेय बढ़ाने की सूचना जारी कर दी गई। राज्य में चुनाव की तारीखों की घोषणा के बाद राज्य में आचार चुनाव संहिता लागू कर दी गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here