सुशासन सूचकांक 2021: टॉप पर गुजरात! जानिये, अन्य राज्यों की क्या है स्थिति

पिछले एक साल में 20 से अधिक राज्यों ने अपने जीजीआई, या सुशासन सूचकांक में सुधार किया है।

देश के सभी राज्यों की केंद्र सरकार द्वारा हर साल प्रशासन की गुणवत्ता के अनुसार उनकी सूची तैयार की जाती है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने 25 दिसंबर को सूची जाहिर की गई। इस सूची में राज्यों को देश में सर्वश्रेष्ठ प्रशासन के अनुसार स्थान दिया गया है। सुशासन दिवस के अवसर पर सूची की घोषणा की गई।

सूची के अनुसार, पिछले एक साल में 20 से अधिक राज्यों ने अपने जीजीआई, या सुशासन सूचकांक में सुधार किया है। सूची के अनुसार, गुजरात ने 2019 की तुलना में पिछले वर्ष की तुलना में 12.3 प्रतिशत का सुधार किया दर्ज किया है। इसमें आर्थिक प्रशासन, जनशक्ति विकास, सार्वजनिक सुविधाओं, सामाजिक कल्याण और विकास, न्याय प्रणाली, सामाजिक सुरक्षा के क्षेत्रों में उत्कृष्ट प्रदर्शन का उल्लेख है।

10 क्षेत्र और 58 सूचकांक!
इस सूची को तैयार करने के लिए केंद्र द्वारा कुल 10 क्षेत्रों में 58 बिंदओं की जांच की जाती है। केंद्र ने घोषित किया है कि गुजरात ने इन सभी 58 सूचकांकों में अच्छा प्रदर्शन किया है। जिन 10 क्षेत्रों की जांच की जाती है, उनमें कृषि और संबद्ध व्यवसाय, व्यापार और उद्योग, जनशक्ति विकास, सार्वजनिक स्वास्थ्य, सार्वजनिक सुविधाएं, वित्तीय प्रशासन, सामाजिक कल्याण, न्यायपालिका, सार्वजनिक सुरक्षा, पर्यावरण और नागरिक केंद्रित प्रशासन शामिल हैं।

दूसरे क्रमांक पर महाराष्ट्र
गुजरात के बाद दूसरे नंबर पर महाराष्ट्र और तीसरे नंबर पर गोवा है। इन 10 में से, महाराष्ट्र ने कृषि और संबद्ध व्यवसायों, जनशक्ति विकास, सार्वजनिक सुविधाओं, सामाजिक कल्याण और विकास में सुशासन दर्ज किया है। केंद्र शासित प्रदेशों की सूची में गुजरात की तरह राजधानी दिल्ली सबसे ऊपर है।

ये भी पढ़ेंः महाराष्ट्रः विधानसभा अध्यक्ष के चुनाव में राज्यपाल करेंगे हस्तक्षेप?

गोवा की लंबी छलांग
महाराष्ट्र के बाद गोवा तीसरे नंबर पर है। पिछले साल की तुलना में गोवा ने इस साल 24.7 प्रतिशत की वृद्धि के साथ बड़ी छलांग लगाई है। गोवा राज्य ने कृषि और संबद्ध व्यवसायों, व्यापार और उद्योग, सार्वजनिक सुविधाओं, वित्तीय प्रशासन, सामाजिक कल्याण और पर्यावरण के क्षेत्रों में अच्छा प्रदर्शन किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here