अब गोवा में कांग्रेस के टुकड़े-टुकड़े! ऐसे लगेगा जोर का झटका

कांग्रेस छोड़ने के बाद फलेरियो अपने समर्थक नेताओं के साथ 28 सितंबर को कोलकाता पहुंचे थे। हवाई अड्डे पर उनका स्वागत करने वाले नेताओं में अग्निशमन मंत्री सुजीत बोस भी शामिल थे।

पंजाब कांग्रेस में जहां एक बार फिर अंदरुनी कलह चरम पर है, वहीं अब उसे गोवा में झटका लगने जा रहा है। वहां के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता लुईजिन्हो फलेरियो 29 सितंबर को तृणमूल कांग्रेस पार्टी में शामिल हो जाएंगे। महत्वपूर्ण बात यह भी है कि उनके साथ ही पूर्व पोंडा विधायक लावू मालेदार, साहित्य अकेडमी सम्मान से सम्मानित एन शिवदास और राजेंद्र शिवाजी काकोडकर भी टीएमसी का दामन थामने जा रहे हैं। 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस के लिए यह किसी सदमे से कम नहीं है।

इससे पहले 27 सितंबरो को फलोरियो ने विधानसभा और कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था। पश्चिम बंगाल में टीएमसी की भारी जीत के बाद पार्टी अब अन्य राज्यों में भी अपने पांव पसारने शुरू कर दिए हैं। त्रिपुरा के बाद पार्टी अब गोवा में भी संगठन को मजबूती देने की कोशिश में है।

ममता बनर्जी से भी मिलेंगे फलेरियो
कांग्रेस छोड़ने के बाद फलेरियो अपने समर्थक नेताओं के साथ 28 सितंबर को कोलकाता पहुंचे थे। वे अपने समर्थकों के साथ 29 सितंबर को चार बजे टीएमसी में शामिल होंगे। इस दौरान वे टीएमसी प्रमुख और प्रदेश की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से मुलाकात करेंगे।

ये भी पढ़ेंः कन्हैया के शामिल होने के पहले ही पंजाब में ‘टुकड़े-टुकड़े’! पढ़ें सिद्धू के इस्तीफे के पांच कारण

कोलकाता में गर्मजोशी से स्वागत
इससे पहले फलेरियो का कोलकाता हवाई अड्डे पर टीएमसी के नेताओं ने स्वागत किया। उनके स्वागत करने वाले नेताओं में अग्निशमन मंत्री सुजीत बोस भी शामिल थे। माना जा रहा है टीएमएसी गोवा में फलेरियो को अपनी पार्टी के मुख्यमंत्री का चेहरा घोषित कर सकती है। हाल ही में टीएमसी के राज्यसभा सदस्य डेरेक ओ ब्रायन और सांसद प्रसून बनर्जी ने गोवा का दौरा भी किया था। इस दौरान डेरेक ने दावा किया था कि गोवा के कई नेता उनकी पार्टी के संपर्क में हैं। इसके साथ ही उन्होंने कहा था कि उनकी पार्टी अगले साल गोवा में होने वाले विधानसभा चुनाव लड़ेगी।

कौन हैं फलेरियो

  • फलेरियो गोवा के सबसे बड़े नेताओं में से एक
  • कांग्रेस के गढ़ नावेलिम से विधायक
  • इसी हफ्ते पार्टी ने उन्हें चुनाव समितियों में समन्वय समिति का प्रमुख बनाया था
  • हाल तक पूर्वोत्तर राज्यों के एआइसीसी प्रभारी
  • दलबदल के कारण गोवा मेंं अब कांग्रेस के मात्र पांच विधायक
  • टीएमसी और आम आदमी पार्टी की पैर जमाने की कोशिश

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here