दोस्त दोस्त न रहा! अफगानिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र में की पाकिस्तान की यह शिकायत

अफगानिस्तान की सत्ता संभाल रहा तालिबान अब पाकिस्तान के खिलाफ मुखर होकर सामने आया है। उसने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में पाकिस्तान की शिकायत की है।

पाकिस्तान और अफगानिस्तान के बीच सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है। अफगानिस्तान की सत्ता संभाल रहा तालिबान अब पाकिस्तान के खिलाफ मुखर होकर सामने आया है। उसने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में पाकिस्तान की शिकायत की है। तालिबान ने पाकिस्तान पर अफगानिस्तान में हवाई हमलों का आरोप लगाया है।

पाकिस्तान में हमले के लिए जिम्मेदार
पाकिस्तान में लगातार आतंकी हमलों के लिए प्रतिबंधित आतंकी संगठन तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान जैसे अफगानिस्तान स्थित कई आतंकी संगठनों को जिम्मेदार माना जा रहा है। पाकिस्तान ने स्पष्ट शब्दों में तालिबान से कहा है कि वह या तो इन आतंकवादी संगठनों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करे या फिर इसके परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहे। पिछले दिनों पाकिस्तान ने एयर स्ट्राइक कर अफगानिस्तान में आतंकी अड्डों पर हमला भी किया था। तालिबान इन आतंकी संगठनों को समाप्त करने के लिए तैयार नहीं है। तालिबान का मानना है कि इन संगठनों ने अमेरिकी नेतृत्व वाले विदेशी सुरक्षा बलों से लड़ाई में तालिबान की मदद की थी, इसलिए उन्हें समाप्त नहीं किया जा सकता।

ये भी पढ़ें – हिजाब विवाद पर सर्वोच्च न्यायालय में कब होगी सुनवाई? सीजेआई ने बताया

पाकिस्तान को कठघरे में खड़ा कर किया
अब तालिबान ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पाकिस्तान को कठघरे में खड़ा कर पलटवार किया है। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में अफगानिस्तान की तालिबान सरकार की ओर से नसीर अहमद फैक ने शिकायत की है कि पाकिस्तान की सेना ने अफगानिस्तान के खोश्त और कुनार प्रांत में हवाई हमले किए। तालिबान का कहना है कि पाकिस्तान सेना के हवाई हमले में 40 लोगों की मौत हुई है। इनमें महिलाएं और बच्चे शामिल हैं। बहुत से घरों को भी नुकसान पहुंचा है। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद को भेजे पत्र में अफगानिस्तान ने लिखा है कि पाकिस्तान की सेना ने अंतरराष्ट्रीय कानूनों, मानवाधिकार नियमों और संयुक्त राष्ट्र संघ के सिद्धांतों का उल्लंघन किया है। इसके अलावा संयुक्त राष्ट्र महासभा और सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों का भी इससे हनन हुआ है। साथ ही पाकिस्तान को ऐसे हमलों से दोनों देशों के रिश्ते और क्षेत्र की शांति व्यवस्था प्रभावित होने की चेतावनी भी दी गयी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here