प्रवर्तन निदेशालय ने किया केजरीवाल के मंत्री का स्वास्थ्य खराब, ये है प्रकरण

सोमवार को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने दिल्ली में बड़ी कार्रवाई की है। उसने केजरीवाल सरकार में स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन को गिरफ्तार किया है। मंत्री पर धन शोधन का आरोप है।

ये है प्रकरण
सूत्रों के अनुसार सत्येंद्र जैन पर कोलकाता की एक कंपनी के साथ हवाला के माध्यम से लेनदेन का मामला चल रहा था। इसमें शेल (फर्जी) कंपनियों के माध्यम से भूमि खरीदी और ऋण अदायगी की गई है। जिसकी जांच चल रही थी। इसी प्रकरण में ईडी ने दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री को गिरफ्तार कर लिया है।

आप ने कहा फर्जी प्रकरण
आम आदमी पार्टी (आप) के नेता और दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा है कि, सत्येंद्र जैन के विरुद्ध आठ वर्षों से एक प्रकरण चल रहा है। इस प्रकरण की पूछताछ में कई बार पुलिस बुला चुकी है, बीच के समय में तो बुलाया भी नहीं गया है। अब हिमाचल प्रदेश चुनावों का प्रभारी बना दिये जाने के बाद अचानक उन्हें गिरफ्तार कर लिया है। भाजपा हिमाचल प्रदेश में हार रही है। प्रकरण झूठा है, सत्येंद्र जैन शीघ्र छूट जाएंगे।

ये भी पढ़ें – सिद्धू मूसेवाला के पिता ने बताया, कैसे की गई उनके बेटे की हत्या? 

झूठा कौन? अप्रैल में हुई थी संपत्ति अटैच
प्रवर्तन निदेशालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार 5 अप्रैल 2022 को एजेंसी ने सत्येंद्र जैन व अन्य के प्रकरण में 4.81 करोड़ रुपए की संपत्ति अटैच की थी। जिसमें मेसर्स अकिंचव डेवलपर्स प्राइवेट लिमिटेड, मेसर्स इंडो मेटल इम्पेक्स प्राइवेट लिमिटेड समेत अन्य लोगों की संपत्तियां सम्मिलित हैं। यह कार्रवाई धन शोधन कानून (प्रिनेन्शन ऑन मनी लॉडरिंन्ग ऐक्ट की गई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here