कर्नाटक के ‘डीके’ को गुस्सा आया… जड़ दिया तड़ाक

कर्नाटक के कांग्रेस अध्यक्ष डीके शिवकुमार कई बार अपने व्यवहारों के कारण बदनामी झेलते हैं। वे नेता तो हैं परंतु कार्यकर्ताओं का एकदम पास आना मानो उन्हें बिल्कुल स्वीकार्य नहीं है।

कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डीके शिवकुमार को गुस्सा आ गया और उन्होंने साथ चल रहे कार्यकर्ता को एक थप्पड़ जड़ दिया। वायरल वीडियो में इसके बाद शिवकुमार ने कार्यकर्ता को हड़काया भी। यह घटना मांड्या की हैं, जहां वे पार्टी के पूर्व मंत्री से मिलने उनके घर गए हुए थे।

वीडियो के अनुसार डीके शिवकुमार मांड्या में कांग्रेस के नेता से मिलकर लौट रहे थे। पूर्व मंत्री का स्वास्थ्य ठीक नहीं था। बाहर कार्यकर्ताओं के साथ चल रहे थे कि एक कार्यकर्ता उनके साथ-साथ चलते हुए पीछे हाथ रख रहा था, इससे शिवकुमार को गुस्सा आ गया और उन्होंने सबके सामने थप्पड़ जड़ दिया।

इसके बाद वे डी.शिवकुमार ने कार्यकर्ता को कहा, मैंने तुम लोगों को छूट दी है, इसका ये अर्थ नहीं है।

ये भी पढ़ें – उत्तर प्रदेश में जनसंख्या नियंत्रण विधेयक पर ऐतिहासिक कदम… ये है मसौदे की मुख्य बातें

नेता से मिलने गए, कार्यकर्ता पर बरस पड़े
शिवकुमार मांड्या में पूर्व मंत्री जी.मडेगौड़ा से मिलने गए थे। मडेगौड़ा का स्वास्थ्य ठीक नहीं है। कार्यकर्ता को थप्पड़ मारने का वीडियो मीडिया के कैप्चर करने का आभास होते ही शिवकुमार ने मीडिया से वीडियो को डिलीट करने को कहा।

गुस्सैल प्रकृति के हैं शिवकुमार?
यह पहली घटना नहीं है जिसमें डी.के शिवकुमार ने किसी से दुरव्यवहार किया हो। इसके पहले बेल्लारी में कांग्रेस के प्रचार अभियान में उन्होंने सेल्फी लेने की कोशिश कर रहे शख्स को थप्पड़ जड़ दिया था। यह घटना 4 फरवरी, 2018 की थी।

बेलगांव में भी सेल्फी लेने की कोशिश कर रहे शख्स को थप्पड़ मार दिया था। यह घटना 20 नवंबर, 2017 की है।

कांग्रेस के संकटमोचक
डीके शिवकुमार कांग्रेस के कद्दावर नेता हैं। उन्हें रिसॉर्ट वाली राजनीति में माहिर माना जाता है। उनके ईगल्टन रिसॉर्ट में ही 2017 में गुजरात कांग्रेस के 44 विधायकों को रखा गया था। जिससे राज्यसभा चुनाव में भाजपा किसी के फोड़ न पाए। वे कांग्रेस के लिए संकटमोचक बनकर सदा खड़े रहे हैं। कांग्रेस हाइकमांड के विश्वसनीय डीके शिवकुमार पहली बार 1983 में कांग्रेस के छात्र संघ एनएसयूआई के अध्यक्ष बने थे। इसके बाद वे सदा शीर्ष पर चढ़ते चले गए। वे वोक्कालिगा समाज से हैं जिससे पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा भी हैं। परंतु, धन-बल और राजनीतिक बुद्धि के सूरमा को इतना गुस्सा क्यों आता है यह अब तक लोग समझ नहीं पाते।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here