राजस्थान में कांग्रेसी घमासान, विधायक ने मुख्यमंत्री को लगाई लताड़

राजस्थान की कांग्रेस सरकार में गठन के बाद से ही तनातनी मची हुई है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच शीतयुद्ध चल ही रहा है कि विधायक भी सरकार पर हमलावर हो गए हैं।

पारसोली के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के नए भवन के लोकार्पण समारोह में चित्तौड़गढ़ के बेगूं से कांग्रेस विधायक राजेंद्र सिंह बिधूड़ी ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री गहलोत अपने मंत्री के जेल जाने से डरते हैं। इस कारण रीट की सीबीआई जांच नहीं करा रहे। बिधूड़ी के बयान का एक वीडियो भी सामने आया है।

मुख्यमंत्री पर अकर्मण्यता का आरोप
इस दौरान पारसोली थाना पुलिस के खिलाफ बोलते-बोलते बिधूड़ी ने मुख्यमंत्री को भी घेर लिया। उन्होंने कहा कि थाने से डोडा चूरा चोरी हो गया। इसकी सीबीआई जांच होनी चाहिए थी। मुख्यमंत्री ही गृहमंत्री है, उन्हें सबको सस्पेंड करना चाहिए था। सबको भगाकर सीबीआई जांच करानी चाहिए थी। मुख्यमंत्री रीट मामले की जांच नहीं करवा सकते। कम से कम पारसोली थाने के मामले की तो जांच करवानी चाहिए थी। मैंने मुख्यमंत्री को लिखा है कि रीट की सीबीआई जांच को लेकर डर रहे हो क्योंकि कोई मंत्री जेल चला जाएगा, लेकिन पारसोली थाने की तो सीबीआई जांच करवा दो।

ये भी पढ़ें – कपिल सिब्बल ने छोड़ी कांग्रेस, राज्य सभा में समर्थन के लिए इस पार्टी के प्रति जताया आभार

हारे को राज्यमंत्री का दर्जा, जीतनेवालो को गिराया
विधूड़ी यहीं नहीं रुके। उन्होंने, चित्तौड़ से कांग्रेस पार्टी के एक वरिष्ठ नेता का नाम लिए बिना ही तंज कसा। उन्होंने कहा कि जो नेता दो बार 50 हजार वोटों से हारा है, उसे मुख्यमंत्री ने राज्यमंत्री का दर्जा दे दिया और जीतने वाले को नीचे गिरा दिया। हम विधायक जीतेंगे, तभी तो आप मुख्यमंत्री बनोगे। हमें हमारा कार्यकर्ता ही जिताएंगे। जब कार्यकर्ता ही मजबूत नहीं होगा, उसकी कोई सुनेगा नहीं तो हम भी कैसे जीतेंगे।

उल्लेखनीय है कि बिधूड़ी अपनी ही सरकार के फैसलों से खफा बताए जा रहे हैं। कुछ महीने पहले भी तत्कालीन भैंसरोडगढ़ एसएचओ को गाली देने का मामले में भी बिधूड़ी विवादों में रहे थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here