केन्द्रीय गृह मंत्री शाह से मिले मुख्यमंत्री चौहान, किया यह अनुरोध

मुख्यमंत्री चौहान ने ट्वीट के माध्यम से इसकी जानकारी साझा करते हुए कहा कि केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह भेंट हुई।

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 13 जून को नई दिल्ली प्रवास के दौरान केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने राज्य की सहकारिता नीति और नक्सल विरोधी अभियानों के संबंध में विस्तार से चर्चा की।

मुख्यमंत्री चौहान ने बताया कि प्रदेश में नीति एवं योजना आयोग, सहकारिता एवं अन्य विशेषज्ञों से व्यापक विचार-विमर्श के बाद सहकारिता नीति तैयार की गई है। नीति के जरिये अलग-अलग क्षेत्रों में सहकारिता के माध्यम से नवीन क्षेत्रों में रोजगार सृजन, लोगों की आमदनी बढ़ाने और उन्हें संगठित करने का प्रयास किया जायेगा। उन्होंने सहकारिता नीति का प्रारूप अमित शाह को भेंट किया।

शाह से किया ये अनुरोध
मुख्यमंत्री ने बताया कि वर्तमान में प्रभावशील स्थानीय निकायों के चुनाव की आचार संहिता समाप्त होते ही इस नीति को विधिवत लागू किया जायेगा। उन्होंने केन्द्रीय मंत्री शाह को भोपाल में आयोजित होने वाले सहकारिता सम्मेलन में शामिल होने और राज्य की सहकारिता नीति जारी करने का अनुरोध किया।

नक्सलियों से निपटने में सहयोग बढ़ाने की मांग
मुख्यमंत्री चौहान ने केन्द्रीय गृह मंत्री शाह को मध्यप्रदेश के तीन जिलों बालाघाट, मण्डला और डिण्डोरी में हॉकफोर्स के नक्सल विरोधी अभियानों में प्राप्त सफलताओं से अवगत कराया। उन्होंने कहा कि राज्य के नक्सल विरोधी अभियान को अधिक गति प्रदान करने के लिए केन्द्रीय सुरक्षा बलों की चार अतिरिक्त बटालियन की आवश्यकता है। मुख्यमंत्री ने बालाघाट और मण्डला जिलों के थानों और पुलिस चौकियों का सुदृढ़ीकरण करने के लिए सहायता राशि उपलब्ध कराने का भी आग्रह किया।

सहकारिता सम्मेलन में शामिल होने का अनुरोध
मुख्यमंत्री चौहान ने ट्वीट के माध्यम से इसकी जानकारी साझा करते हुए कहा कि केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह भेंट हुई। मैं उनका ह्रदय से धन्यवाद व्यक्त करता हूं कि उन्होंने मध्यप्रदेश में हम जो नई सहकारिता नीति बना रहे हैं, उसमें रुचि दिखाई। इस नीति को लेकर हमने नीति आयोग, विशेषज्ञों के साथ व्यापक विचार-विमर्श किया है। हमारा प्रयास है कि सहकारिता के माध्यम से लोगों की आमदनी बढ़े, लोगों को संगठित करें, नए क्षेत्रों में सहकारिता का लाभ मिले। नई सहकारिता का ड्रॉफ्ट मैंने अमित शाह को भेंट किया। मैंने अनुरोध किया है कि वह भोपाल पधारें, जहां सहकारिता सम्मेलन में उनके द्वारा नीति जारी की जाएगी।

राहुल गांधी ने कोई गड़बड़ नहीं की तो डर किस बात का
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने नई दिल्ली में मीडिया से बातचीत के दौरान कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा राहुल गांधी को पूछताछ के लिए बुलाने पर कांग्रेस के प्रदर्शन पर सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी और कांग्रेस ने कोई गड़बड़ नहीं की है, तो डर किस बात का है। ईडी को सच बताएं।

कांग्रेस पर आरोप
मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि ये पहले गड़बड़ करते हैं, फिर जांच एजेंसियों पर दबाव बनाते हैं। जनता इस ढोंग को समझ चुकी है। यह दबाव बनाने से काम नहीं चलेगा। राहुल जी सच बताइये और कुछ नहीं किया है, तो डर क्यों रहे हैं। उन्होंने कहा कि दिल्ली में मैंने कुछ पोस्टर देखे राहुल जी की फोटो के साथ ‘सत्यमेव जयते’। अगर सत्य के पक्ष में खड़े हो तो डर क्यों। सांच को आंच नहीं। अगर गांधी परिवार ने गड़बड़ नहीं की है तो डर क्यों रहा है, कांग्रेस डर कर क्यों हंगामा मचा रही है, सच तो सच है, वह सामने आएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here