जानिये… ममता बनर्जी के घोषणा पत्र में क्या है खास!

पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने पार्टी के घोषणा पत्र में पांच लाख लोगों को रोजगार देने का वादा किया है।

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के साथ ही मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस पार्टी भी आरपार की लड़ाई लड़ने के मूड में है। इस बीच 17 मार्च को ममता बनर्जी ने पार्टी का घोषणा पत्र जारी कर दिया है। पहले यह घोषणा पत्र 11 मार्च को ही जारी होना था, लेकिन ममता बनर्जी को चोट लग जाने के कारण उन्हें यह कार्यक्रम रद्द कर देना पड़ा था।

घोषणा पत्र की खास बातें

  • राज्य में फिर से सरकार आने पर पांच लाख लोगों को नौकरियां दी जाएंगी
  • सत्ता में आने के बाद राज्य का राजस्व 25 हजार करोड़ से बढ़कर 75 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा हो गया
  • लॉकडाउन के समय बंगाल में लोगों के खाने-पीने की व्यवस्था की गई
  • टीएमसी सरकार आने के बाद लोगों की आय बढ़ी
  • 100 दिन के काम में बंगाल देश में नंबर वन रहा
  • टीएमसी सरकार के काम की दुनिया भर में प्रशंसा हुई
  • 47 लाख घरों में नल का पानी पहुंचाया गया
  • राज्य में 1.5 करोड़ लोगों को मुफ्त में राशन दिया गया

ये भी पढ़ेंः पश्चिम बंगाल चुनावः जानिये… क्या कहते हैं ओपिनियन पोल?

भाजपा पर साधा निशाना
इससे पहले उन्होंने झारग्राम में रैली को संबोधित करते हुए भारतीय जनता पार्टी पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि पहले मार्क्सवादी कम्यूनिस्ट पार्टी उन पर शारीरिक हमले किया करती थी, अब वही काम भाजपा कर रही है। बनर्जी ने  व्हीलचेयर पर बैठकर चुनावी रैली को संबोधित किया। उन्होंने रैली में कहा कि भाजपा मुझे घर के अंदर रखना चाहती थी ताकि मैं चुनाव प्रचार करने बाहर नहीं आ सकूं। उन्होंने मेरा पैर भी घायल कर दिया।

ये भी पढ़ेंः ‘लड़के’ के चक्कर में ममता से हो गई नेताओ की कट्टी!

सुवेंदु अधिकारी से मुकाबला
बता दें कि ममता बनर्जी इस बार नंदीग्राम से चुनाव मैदान में उतरी हैं। उनके सामने भाजपा की ओर से सुवेंदु अधिकारी को उतारा गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here