परिणाम बताएंगे किसमें कितना है दम? इन राज्यों की विधानसभा और लोकसभा सीटों पर उप-चुनाव

13 राज्य और एक केंद्र शासित प्रदेश में उप चुनाव हो रहे हैं। इन चुनावों के लिए सभी दलों ने अपना पूरा जोर लगाया है।

देश में 3 लोकसभा और 29 विधनसभा सीटों के लिए मतदान हो रहे हैं। ये चुनाव परिणाम बताएंगे केंद्र सरकार और राज्य सरकारों की कार्यप्रणाली से किसमें कितना दम है। यह चुनाव 14 राज्यों में हो रहे हैं।

इन चुनावों की मतगणना 2 नवंबर को होगी। कुल 13 राज्य और एक केंद्र शासित प्रदेश में मतदान हो रहा है। जिसमें असम में चार, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश और मेघालय में तीन-तीन, बिहार, कर्नाटक और राजस्थान में दो-दो और आंध्र प्रदेश, हरियाणा, महाराष्ट्र, मिजोरम और तेलंगाना में एक-एक सीट है। इन उपचुनावों का किसी भी सरकार की स्थिरता पर कोई प्रभाव नहीं पड़ना, लेकिन यह कई नेताओं और मुख्यमंत्रियों के लिए महत्वपूर्ण परीक्षा होगी। इसमें सभी की नजर बिहार, बंगाल, मध्य प्रदेश, राजस्थान और तेलंगाना के मत परिणामों पर होगा।

ये भी पढ़ें – उन अस्थियों को है अपनों का इंतजार

रिक्त थीं लोकसभा की तीन सीटें
इस उप चुनाव जिन तीन लोकसभा क्षेत्रों में मतदान हो रहे हैं, वे वर्तमान लोकसभा सदस्यों की निधन से रिक्त हुई हैं। जिसमें मार्च में रामस्वरूप शर्मा (भाजपा) के निधन के बाद मंडी सीट खाली हुई थी। खंडवा संसदीय क्षेत्र का उपचुनाव भाजपा सदस्य नंद कुमार सिंह चौहान की मृत्यु के बाद रिक्त था, जबकि दादरा और नगर हवेली में, निर्दलीय लोकसभा सदस्य मोहन डेलकर के निधन के कारण खाली था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here