6 राज्यों की 7 सीटों पर मतदान! जानिये, किस सीट पर क्या है स्थिति

बिहार की दो सीटों के साथ ही महाराष्ट्र, तेलंगाना, हरियाणा, उत्तर प्रदेश और ओडिसा की एक-एक सीट पर 3 नवंबर को मतदान कराए जाने हैं। इसकी तैयारी प्रशासन ने पूरी कर ली है।

देश के 6 राज्यों की 7 विधानसभा सीटों पर 3 नवंबर को चुनाव होने हैं। इनमें बिहार की दो सीटों के साथ ही महाराष्ट्र, तेलंगाना, हरियाणा, उत्तर प्रदेश और ओडिसा की एक-एक सीटें शामिल हैं। इन सीटों पर वोटिंग 3 नवंबर को होगी, जबकि मतों की गिनती 6 नवंबर को होगी।

इन सीटों पर नामांकन की अंतिम तिथि 14 अक्टूबर है। नामांकन वापसी की अंतिम तिथि 17 अक्टूबर है। इसके साथ ही वोटिंग 3 नवंबर को और वोटों की गिनती 6 नवंबर को होगी। फिलहाल प्रशासन ने मतदाता की तैयारी पूरी कर ली है। इसके लिए सुरक्षा का पुख्ता प्रबंध किया गया है।

अंधेरी पूर्व( मुंबई)
मुंबई की अंधेरी पूर्व सीट पर शिवसेना के उद्धव गुट और भारतीय जनता पार्टी में कांटे की टक्कर की संभावना थी, लेकिन 18 अक्टूबर को भाजपा ने अपने प्रत्याशी मुरजी पटेल को हटाकर शिवसेना प्रत्याशी ऋतुजा लटके की जीत की राह आसान कर दी। इस बीच 14 उम्मीदवारो में से सात ने अपना नामांकन पत्र वापस ले लिया है। लेकिन सात उम्मीदवार अभी भी मैदान में जमे हुए हैं। हालांकि इसके बावजूद शिवसेना उम्मीदवार ऋतुजा लटके की जीत तय है। ऋतुजा लटके रमेश लटके की पत्नी हैं और उनके साथ सहानुभूति लहर है, जिसका लाभ उन्हें मिलना तय माना जा रहा है। भाजपा के अपने उम्मीदवार हटाए जाने का एक बड़ा कारण यही माना जा रहा है।

मोकामा (बिहार)
बिहार के मोकामा और गोपालगंज विधानसभा उपचुनाव में महागठबंधन सरकार की परीक्षा होने जा रही है। जेडीयू के भाजपा से अलग होकर महागठबंधन की सरकार बनने के बाद इन दो विधानसभा सीटों पर उपचुनाव के परिणाम ये बताएंगे कि नीतीश कुमार का निर्णय सही था या नहीं। वैसे मोकामा सीट राजद के बाहुबली विधायक अनंत सिंह की सदस्यता रद्द किए जाने के कारण खाली हुई है। आपराधिक मामले में दोषी ठहराए जाने के बाद उनके विधायक पद की सदस्यता को रद्द कर दिया गया था। यहां से राजद ने अनंत सिंह की पत्नी नीलम देवी को टिकट दिया है, जबकि भाजपा ने कद्दावर नेता लल्लन सिंह की पत्नी सोनम देवी को मैदान में उतारा है।

गोपालगंज
गोपालगंज सीट भारतीय जनता पार्टी विधायक सुभाष सिंह के निधन के बाद खाली हुई है। यहां से भाजपा ने दिवंगत विधायक सुभाष सिंह की पत्नी कुसुम देवी को खड़ा किया है, जबकि राजद के मोहन गुप्ता और बसपा की इंदिरा यादव मैदान में हैं। इंदिरा यादव राजद के संस्थापक लालू प्रसाद के साले साधु यादव की पत्नी हैं।

तेलंगाना
तेलंगाना में मुख्यमंत्री के. चंद्रेशेखर राव के खिलाफ भाजपा के अभियान की परीक्षा होगी। यहां मुनुगोडे विधानसभा सीट पर उपचुनाव होना है। यह सीट कांग्रेस विधायक के. राजगोपाल रेड्डी के त्याग पत्र के कारण खाली हुई है। अब राजगोपाल रेड्डी भाजपा की ओर से मैदान में हैं। उनकी टक्कर तेलंगाना राष्ट्र समिति यानी टीआरएस उम्मीदवार के प्रभाकर रेड्डी और कांग्रेस उम्मीदवार पी एस रेड्डी से है।

उत्तर प्रदेश में एक सीट पर मतदान
उत्तर प्रदेश में गोला गोकर्णनाथ विधानसभा सीट पर उपचुनाव होना है। यहां भाजपा और सपा में सीधी टक्कर है। भाजपा विधायक अरविंद गिरी के निधन के कारण रिक्त हुई है। भाजपा ने यहां से गिरी के बेटे अमन को उम्मीदवार बनाया है।वहीं सपा ने विनय तिवारी को मैदान में उतारा है। बसपा और कांग्रेस ने यहां से अपने उम्मीदवार नहीं उतारे हैं।

हरियाणा
हरियाणा में सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी के युवा उम्मीदवार भव्य बिश्नोई आदमपुर विधानसभा सीट पर अपने पांच दशक पुराने किले को बचाने में जुटे हैं। वहीं कांग्रेस ने जय प्रकाश पर दांव लगाया है। पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत भजन लाल के छोटे पुत्र कुलदीप बिश्नोई के विधायक के तौर पर इस्तीफा देने के कारण यह सीट खाली हुई है।

ओडिशा
ओडिशा के भद्रक जिले की धामनगर सीट पर भी उपचुनाव होने हैं। यह सीट 19 सितंबर को भाजपा विधायक बिष्णु चरण सेठी के निधन के बाद खाली हुई है। यहां से पांच उम्मीदवार मैदान में हैं। इनमें से तीन उम्मीदवार बीजद से अवंती दास, भाजपा से सूर्यवंशी सूरज, कांग्रेस से बाबा हरेकृष्ण सेठी और दो निर्दलीय पवित्र मोहन दास तथा राजेंद्र दास मैदान में हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here