भाजपा की नई राष्ट्रीय कार्यकारिणी घोषित… गांधी गायब, महाराष्ट्र से वाघ को भी मिली जगह

पांच राज्यों में विधान सभा चुनावों को देखते हुए भाजपा ने राष्ट्रीय कार्यकारिणी की घोषणा की है। इसमें उत्तर प्रदेश से सबसे अधिक नेताओं को सम्मिलित किया गया है।

भारतीय जनता पार्टी ने नई राष्ट्रीय कार्यकारिणी की घोषणा की है। इसमें 80 सदस्य हैं। जिनमें प्रमुख रूप से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, लालकृष्ण आडवाणी, डॉ.मुरली मनोहर जोशी, राजनाथ सिंह, अमित शाह, नितिन गडकरी, पीयूष गोयल का नाम शामिल है। इस कार्यसमिति में 50 विशेष आमंत्रित सदस्य और 179 स्थाई आमंत्रित (पदेन) सदस्य शामिल हैं। इसकी घोषणा राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रसाद नड्डा द्वारा की गई है।

भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी से गांधी परिवार गायब है। इसमें न तो मेनका गांधी हैं और न ही उनके पुत्र वरुण गांधी ही शामिल किेये गए हैं। वरुण गांधी लंबे समय से उत्तर प्रदेश में योगी सरकार के विरुद्ध मोर्चा खोले हुए हैं। विधान सभा चुनावों के बाद मुख्यमंत्री पद के लिए चयन की दौड़ में भी वे शामिल थे, परंतु उसके बाद से ही वे अपनी पार्टी और सरकार के खिलाफ ट्वीट और टिप्पणियां करते रहे हैं। चुनावी राज्य होने का बावजूद उत्तर प्रदेश से गांधी परिवार के इन दो सदस्यों का नाम शामिल न किया जाना आश्चर्यजनक ही है।

ये भी पढ़ें – कश्मीर में 1990 जैसे हालात पैदा करने का षड्यंत्र? तीन दिन में पांच हिंदुओं की हत्या

महाराष्ट्र से ये हैं नाम

  • राष्ट्रीय कार्यकारिणी में पांच नाम महाराष्ट्र से शामिल किये गए हैं, जिसमें नितिन गडकरी, पीयूष गोयल, प्रकाश जावडेकर, विनय सहस्रबुद्धे, चित्रा ताई वाघ का समावेश है।
  • राष्ट्रीय सचिव के पद पर विनोद तावडे और पंकजा मुंडे हैं, इसके अलावा विनोद तावडे को हरियाणा का प्रभारी और पंकजा मुंडे को मध्य प्रदेश का सह प्रभार भी है।
  • विशेष आमंत्रित सदस्यों में सुधीर मुनगंटीवार, आशीष शेलार, लड्डाराम नागवानी का नाम शामिल है।
  • राष्ट्रीय प्रवक्ता के पद पर मुंबई की संजू वर्मा और नांदुरबार की हिना विजय कुमार गावित का समावेश है।
  • पूर्व मुख्यमंत्री और विधान सभा में नेता प्रतिपक्ष के रूप में देवेंद्र फडणवीस भी राष्ट्रीय कार्यकारिणी में शामिल किये गये हैं। इसके अलावा प्रवीण दरेकर को विधान परिषद में नेता प्रतिपक्ष के रूप शामिल किया गया है। प्रदेश अध्यक्ष के रूप में चंद्रकांत पाटील के नाम भी शामिल है।
  • सुनील देवधर को आंध्र प्रदेश का प्रभारी बनाया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here