लालू के बड़े ‘लाल’ पर लालटेन के प्रयोग पर भी पाबंदी! जानिये, क्या है मामला

तेज प्रताप से पार्टी के बड़े नेता के साथ ही उनके छोटे भाई और बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव भी परेशान चल रहे हैं।

पूर्व केंद्रीय मंत्री और आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव अपने बड़े बेटे तेज प्रताप के प्रताप से परेशान हैं। उनकी वजह से पार्टी के लिए बार-बार मुश्किलें खड़ी हो रही हैं। उनकी बयानबाजी और कई तरह की हरकतों से आहत पार्टी प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने बहुत पहले से ही पार्टी कार्यालय में बैठना बंद कर दिया है। लेकिन तेज का प्रताप कम होने का नाम नहीं ले रहा है। उन्होंने हाल ही में अपने पिता लालू प्रसाद यादव को दिल्ली में बंधक बनाने का आरोप अपने छोटे भाई तेजस्वी यादव पर लगाया था। उनकी इस तरह की हरकतों से परेशान पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने अब तेज प्रताप को पार्टी से बाहर करने का दावा किया है।

बिहार के हाजीपुर में तिवारी ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि तेज प्रताप अब पार्टी में नहीं हैं। उन्होंने अपना नया संगठन बना लिया है। वे खुद आरजेडी से आउट हो चुके हैं। तेजस्वी के करीबी मान जाने वाले तिवारी ने कहा कि तेज को लालटेन का प्रयोग करने से भी मना कर दिया गया है।

तेज की हरकतों से नाराज पार्टी नेता
तेज प्रताप से पार्टी के बड़े नेता के साथ ही उनके छोटे भाई और बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव भी परेशान चल रहे हैं। पहले तो उनसे प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ही नाराज थे, अब उनके पिता और भाई भी उनसे मुक्ति चाहने लगे हैं। इस वजह से पार्टी में तेज खुद को उपेक्षित महसूस करने लगे थे। इसलिए उन्होंने हाल ही में छात्र जनशक्ति परिषद नाम से एक नया संगठन खड़ा किया है। इसके बाद से वे आरजेडी की बैठकों में भी शामिल नहीं हो रहे हैं।

ये भी पढ़ेंः ‘हिंदुओं का नरसंहार लगातार जारी है’ – अंकुर शर्मा

छोटे लाल की प्रशंसा, बड़े लाल का नाम तक नहीं लिया
5 अक्टूबर को पार्टी के प्रशिक्षण शिविर में लालू यादव ने भी तेज प्रताप के बारे में कोई बात नहीं कर उनके प्रति अपनी नाराजगी पर मुहर लगा दी। इस शिविर में जहां उन्होंने अपने छोटे बेटे तेजस्वी की प्रशंसा की, वहीं तेज प्रताप का नाम तक नहीं लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here