सरकार चला रहे हैं या दाऊद गैंग? भाजपा विधायक ने साधा निशाना

भाजपा विधायक आशीष शेलार ने आरोप लगाते हुए कहा कि ठाकरे सरकार पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख के खिलाफ अपराध की जांच के लिए आवश्यक दस्तावेज उपलब्ध कराने में भी सहयोग नहीं कर रही है।

भारतीय जनता पार्टी विधायक आशीष शेलार ने महाराष्ट्र की महाविकास आघाड़ी सरकार पर गंभीर आरोप लगाए हैं।उन्होंने राज्य के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख के साथ ही सहायक पुलिस आयुक्त को लेकर भी सरकार पर निशाना साधा है। शेलार ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि पुलिस के सहायक आयुक्त सीबीआई अधिकारी को धमकी देते हैं। ये तीनों       (शिवसेना, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी और कांग्रेस) मिलकर सरकार चला रहे हैं या दाउद की गैंग।

शेलार ने आरोप लगाते हुए कहा कि ठाकरे सरकार पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख के खिलाफ अपराध की जांच के लिए आवश्यक दस्तावेज उपलब्ध कराने में भी सहयोग नहीं कर रही है।

सीबीआई को धमकाने का आरोप
बता दें कि 5 अगस्त को सीबीआई ने आरोप लगाया कि हमारे अधिकारियों को सहायक पुलिस आयुक्त द्वारा धमकाया जा रहा है। उसके बाद न्यायालय ने इस पर संज्ञान लिया और राज्य सरकार को मामले में अपनी भूमिका स्पष्ट करने का निर्देश दिया। उसके बाद भाजपा भी आक्रामक हो गई है। भाजपा नेता आशीष शेलार ने लगातार तीन बार ट्वीट कर सरकार पर निशाना साधा।

ये भी पढ़ेंः क्या भाजपा के आंदोलन से आम लोगों को मुंबई लोकल में यात्रा की मिलेगी अनुमति?

सरकार पर गंभीर आरोप
भाजपा विधायक ने कहा कि सरकार के खिलाफ लिखने पर सेवानिवृत्त नौसेना अधिकारी की आंखें फोड़ दी गईं। मंत्रियों से सवाल पूछने पर ठाणे के कर्मूसे जैसे लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ता है। शेलार ने कहा कि विधानसभा में ओबीसी मुद्दे पर कड़ा रुख अपनाने पर 12 भाजपा विधायकों को निलंबित कर दिया गया।

सीबीआई को दस्तावेज नहीं सौंपने का आरोप
राज्यपाल और विपक्ष के नेता मुसीबत में फंसे लोगों से मिलने जाते हैं तो इस सरकार के पेट में दर्द होने लगता है। राज्य सरकार पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख के खिलाफ भ्रष्टाचार के मामले में सीबीआई को दस्तावेज नहीं सौंप रही है। वह न्यायालय के आदेश का भी पालन नहीं कर रही है। शेलार ने सरकार पर हमला करते हुए कहा कि तीनों दल मिलकर सरकार चला रहे हैं या दाऊद की गैंग?

मुख्यमंत्री की आलोचना
इससे पहले 5 अगस्त को भी शेलार ने मुख्यमंत्री की आलोचना की थी। मुख्यमंत्री ने खार में महानगरपालिका भवन का उद्घाटन किया था। इस पर शेलार ने निशाना साधते हुए कहा था कि मुख्यमंत्री ने अपनी पूर्व की घोषणा को साकार करते यह कर दिखाया। उन्होंने कहा कि जिस भवन का तीन महीने पहले ही उद्घाटन हो चुका है, उसका मुख्यमंत्री ने फिर से उद्घाटन कर दिखाया। उन्होंने कहा कि इमारत के निर्माण में शिवसेना की कोई हिस्सेदारी नहीं है और सीएम ने केवल श्रेय हड़पने की कोशिश की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here