पुणे में किरीट सोमैया! निशाने पर ‘दादा’

भाजपा नेता किरीट सोमैया पुणे में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कई सीक्रेट ब्लास्ट करने वाले हैं, वहीं राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी प्रमुख शरद पवार ने गवली मामले में उन पर आरोप लगाया है, जिसका जवाब सोमैया ने प्रेस वार्ता में दिया है।

महाराष्ट्र की महाविकास आघाड़ी सरकार के कई मंत्रियों पर लगे गंभीर भ्रष्टाचार के आरोपों की प्रवर्तन निदेशालय जांच कर रहा है। इस बीच भारतीय जनता पार्टी नेता किरीट सोमैया ने 11 भ्रष्टाचार में लिप्त मंत्रियों की लिस्ट तैयार की है। पिछले एक महीने से सोमैया संबंधित मंत्रियों और विधायकों के निर्वाचन क्षेत्रों का दौरा कर रहे हैं और उनके भ्रष्टाचार का पर्दाफाश कर रहे हैं।  इसी कड़ी में वे 9 सितंबर को पुणे के लिए रवाना हो गए हैं। वहां सोमैया जरंदेश्वर चीनी मिल घोटाले की सच्चाई का पता लगाएंगे।

इन स्थानों पर जाएंगे किरीट
सोमैया ने ट्वीट किया कि वे पुणे जा रहे हैं। सोमैया ने कहा, “मैं 9 सितंबर को अनिल परब खरमाटे घोटाले और जरंदेश्वर चीनी मिल घोटाले की जांच के लिए पुणे जाऊंगा।” पुणे की अपनी यात्रा के दौरान, सोमैया पुणे जिला केंद्रीय सहकारी बैंक का भी दौरा करेंगे। इसी बैंक से जरंदेश्वर शुगर फैक्ट्री को कर्ज दिया गया था। उस समय अजित पवार शिखर बैंक यानी महाराष्ट्र राज्य सहकारी कोऑपरेटिव बैंक के अध्यक्ष थे।

25 हजार करोड़ के घोटाले का आरोप
आरोप है कि उस समय बैंक में 25,000 करोड़ रुपये का घोटाला हुआ था। यह भी आरोप लगाया गया है कि जब जरंदेश्वर कारखाना घाटे में चला गया, तो इसे कौड़ी के भाव बेच दिया गया। उल्लेखनीय है कि अजित पवार के कार्यकाल में 4 सहकारी बैंकों ने इस कारखाने को कर्ज दिया था। इसमें सतारा जिला बैंक भी शामिल है। यह फैक्ट्री अजित पवार के चाचा राजेंद्र घाडगे की है। वे इस बैंक के अध्यक्ष हैं। मुंबई पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा ने 22 अगस्त 2019 को मामला दर्ज किया था। ईडी ने इस उसके आधार पर मामला दर्ज कर जांच शुरू की है। यह कार्रवाई बेनामी संपत्ति के मामले में की गई है।

 विस्फोटक खुलासा करने का दावा
सोमैया दोपहर 3 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कुछ और सीक्रेट ब्लास्ट करने वाले हैं, वहीं राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी प्रमुख शरद पवार ने गवली मामले में आरोप लगाया है, जिसका जवाब सोमैया ने प्रेस वार्ता में दिया है। उसके बाद सोमैया पुणे जिला कलेक्टर कार्यालय भी जाएंगे। परिवहन मंत्री अनिल परब को संकट में डालने वाले परिवहन अधिकारी बजरंग खरमाते को लेकर भी सोमैया कुछ और खुलासे करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here