बसपा से ‘राम’ और ‘लाल’ दोनों की छुट्टी, ये हैं आरोप

बहुजन समाज पार्टी एक्शन मोड में आ गई है। इसके अतंर्गत पार्टी ने अनुशासनात्मक कार्रवाई शुरू कर दी है।

बहुजन समाज पार्टी से दो विधायकों की छुट्टी हो गई है। पार्टी की ओर से विज्ञप्ति जारी करके कहा गया है कि पंचायत चुनावों में पार्टी विरोधी गतिविधियां करने के कारण दो विधायकों को तत्काल प्रभाव से पार्टी से निष्कासित किया जाता है।

पार्टी से निकाले गए विधायक राम अचल राजभर अम्बेडकर नगर दिले के अकबरपुर से हैं जबकि लालजी वर्मा अम्बेडकर नगर के कटहरी से विधायक हैं। विज्ञप्ति के अनुसार लालजी वर्मा को विधान मण्डल के नेता पद से हटाया दिया है उनके स्थान पर शाह आलम उर्फ गुड्डू जमाली जो आजमगढ़ जिले के मुबारकपुर से विधायक है उन्हें बहुजन समाज पार्टी का विधान मण्डल में नेता बनाया गया है। शाह आलम पिछले दो बार से विधायक रहे हैं।

ये भी पढ़ें – बाबा का विवादास्पद बयान मामलाः दिल्ली मेडिकल एसोसिएशन को न्यायालय ने दी ये सलाह

सपा में जाने की अटकलें
बसपा से निर्वासित दोनों नेताओं के समाजवादी पार्टी में जाने का अनुमान है। पिछले कुछ समय से इनकी नजदीकियां सपा नेताओं के साथ अधिक देखी गई हैं। उत्तर प्रदेश में अगले वर्ष चुनाव हैं इसको देखते हुए अब राजनीतिक हलचल शुरू हो गई है।

अकेले चुनाव लड़ेगी बसपा
2019 का लोकसभा चुनाव साथ मिलकर लड़नेवाली सपा-बसपा में से बसपा इस बार अपने दम पर चुनाव लड़ेगी। लोकसभा चुनाव के बाद ही बुआ और भतीजे में मनमुटाव हो गया था। अब विधान सभा चुनाव के लिए बसपा एक्शन मोड में आ गई है। प्रदेश के छह जिले के जिलाध्यक्ष पर बदल दिये गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here