बांग्लादेश में हिंदुओं पर हमले जारी! कट्टरपंथियों ने अब इतने घरों में लगाई आग

17 अक्टूबर की देर रात कट्टरपंथियों ने रंगपुर जिले के पीरगंज स्थित एक गांव में हिंदुओं के घरों में आग लगा दी। कुरान के कथित रुप से अपमान करने वाले वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने की अफवाह के बाद मुस्लिम कट्टरपंथियों द्वारा हिंदुओं के घरों में आग लगाने की बात कही जा रही है।

पाकिस्तान के बाद बांग्लादेश में भी हिंदुओं और उनके धार्मिक स्थलों पर हमले तेज हो गए हैं। इस वजह से वहां हिंदुओं में डर फैल गया है। मंदिरों में तोड़फोड़ और देवी-देवताओं की मूर्तियों को नुकसान पहुंचाए जाने के बाद अब कट्टरपंथियों ने 29 हिंदू घरों में आग लगा दी है।

बताया जा रहा है कि 17 अक्टूबर की देर रात कट्टरपंथियों ने रंगपुर जिले के पीरगंज स्थित एक गांव में हिंदुओं के घरों में आग लगा दी। कुरान के कथित रुप से अपमान करने वाले वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद मुस्लिम कट्टरपंथियों द्वारा हिंदुओं के घरों में आग लगाने की बात कही जा रही है।

हिंदुओं के 29 घरों मे लगाई आग
जिले के पुलि अधीक्षक मोहम्मद कमरुज्जमां ने इस बारे में जानकारी दी है। उन्होंने बताया कि गांव के एक युवक द्वारा फेसबुक पोस्ट में धर्म का अपमान करने की अफवाह के बाद तनाव बढ़ गया। फिलहाल उस युवक के घर पर पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई है। लेकिन इस बीच कट्टरपंथियों ने 29 परिवारों के घरों में आग लगाकर उन्हें बेघर कर दिया। बताया जा रहा है कि 17 अक्टूबर की रात करीब 9 बजे आग लगने की सूचना मिली और अग्निशमन दल के कर्मचारी सुबह 4.15 मिनट तक आग को बुझाते रहे। हालांकि इस आगजनी में किसी के हताहत होने की जानकारी नहीं है।

सांप्रदायिक हिंसा मामले में कई लोग गिरफ्तार
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार सांप्रदायिक हिंसा में कमिला, चांदपुर, चट्टोग्राम, कॉक्स बाजार, बंदरबन, मौलवीबाजार और गाजीपुर के मंदिरों में पुलिस और कट्टरपंथी हमलावरों के बीच झड़प भी हुई है। सांप्रदायिक हिंसा में अब तक कई लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

ये भी पढ़ेंः कश्मीरी जिहादियों के प्रति आंखें मूंदे है भारत सरकार, जम्मू हो स्वतंत्र राज्य – अंकुर शर्मा

16 अक्टूबर को हुआ था ऐसा
इससे पहले 16 अक्टूबर को भी कट्टरपंथियों ने कई मंदिरों और हिंदुओं की दुकानो में तोड़फोड़ के साथ जमकर लूटपाट की थी। इसके साथ ही कई वाहनों में आग भी लगा दी थी। लगभग सात घंटे तक कट्टरपंथियों का तांडव चलता रहा। उसके बाद अतिरिक्त पुलिस बल,अर्धसैनिक बल और बॉर्डर गार्ड बांग्लादेश के जवान तैनात कर दिए गए। इस हिंसा में 40 लोग घायल हो गए।

खास बातें

  • जनवरी 2013 से इस साल सितंबर तक हिंदू समुदाय पर 3,679 हमले हुए हैं।
  • 559 घरों और 442 दुकानों के साथ ही कई व्यावसायिक संस्थानों में तोड़फोड की गई।
  • हिंदू मंदिरों, मूर्तियों और पूजास्थलों पर तोड़फोड़ और आगजनी के 1,678 मामले सामने आए।
  • हिंदू समुदाय के 11 लोगो की मौत हुई, जबकि 862 लोग घायल हो गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here