राहुल गांधी को ईडी के समन पर विरोध प्रदर्शन करना पड़ा भारी, असम में गिरी ऐसी गाज

13 जून को गुवाहाटी में एपीसीसी मुख्यालय राजीव भवन से एपीसीसी के अध्यक्ष भूपेन बोरा के नेतृत्व में कांग्रेस नेताओं ने भाजपा सरकार के खिलाफ एक विरोध रैली निकाली।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष एवं राष्ट्रीय नेता राहुल गांधी को ईडी द्वारा समन जारी करने के विरोध में 13 जून को दिल्ली समेत पूरे देश में कांग्रेस प्रदर्शन कर रही है। इस कड़ी में असम प्रदेश कांग्रेस कमेटी (एपीसीसी) द्वारा आज गुवाहाटी में सुबह विरोध प्रदर्शन किया गया। विरोध करने पहुंचे नेता प्रतिपक्ष देबब्रत सैकिया के साथ सांसद अब्दुल खालेक और विधायक जाकिर हुसैन सिकदर समेत काफी संख्या में नेताओं को पुलिस गिरफ्तार कर बस में बिठाकर प्रदर्शन स्थल से दूर ले गयी।

प्रवर्तन निदेशालय द्वारा कांग्रेस के शीर्ष नेता राहुल गांधी को 13 जून को दिल्ली कार्यालय पहुंचने के लिए समन जारी करने से नाराज 13 जून को गुवाहाटी में एपीसीसी मुख्यालय राजीव भवन से एपीसीसी के अध्यक्ष भूपेन बोरा के नेतृत्व में कांग्रेस नेताओं ने भाजपा सरकार के खिलाफ एक विरोध रैली निकाली।

असम पुलिस ने प्रतिपक्ष देबब्रत सैकिया और सांसद अब्दुल खालेक और विधायक जाकिर हुसैन सिकदर को जैसे ही वे प्रदर्शन स्थल पर पहुंचे, उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

गिरफ्तारी के बाद नेता प्रतिपक्ष देबब्रत सैकिया ने कहा, “भाजपा सरकार ने लोकतंत्र का दमन कर दिया है। मुख्यमंत्री डॉ. हिमंत बिस्व सरमा ने पुलिस को लोकतांत्रिक अधिकारों को कुचलने का खुला लाइसेंस दे दिया है। हमें भंगागढ़ में फ्लाई ओवर के पास गिरफ्तार कर लिया गया है। जिस मामले में ईडी ने 2015 में ही क्लीन चिट दे दिया था, उस मामले में षडयंत्र के तहत राहुल गांधी और सोनिया गांधी को समन जारी किया गया है।हम इसका पुरजोर विरोध करते रहेंगे।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here