अठावले ने बताया- किसका गुट है असली शिवसेना, चुनाव चिह्न को लेकर जारी जंग पर कही ये बात

दो दिवसीय दौरे पर जोधपुर पहुंचे केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने सामाजिक न्याय और अधिकारिता विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक करने के बाद पत्रकारों से वार्ता की।

केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले का कहना है कि महाराष्ट्र में एकनाथ शिंदे के नेतृत्व में बनी सरकार लम्बे समय तक चलेगी। असली शिवसेना शिंदे के साथ है और चुनाव आयोग का फैसला भी शिंदे के पक्ष में आएगा।

दो दिवसीय दौरे पर जोधपुर आये केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने 21 अगस्त को सामाजिक न्याय और अधिकारिता विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक करने के बाद पत्रकारों से वार्ता की। अठावले ने कहा कि केंद्र सरकार हर वर्ग को साथ लेकर चलने वाली सरकार है और सभी वर्गों को ध्यान में रखकर कई योजनाएं चलाई है। अगला लोकसभा चुनाव नरेंद्र मोदी वर्सेज अरविंद केजरीवाल होने के सवाल पर उन्होंने कहा कि मोदी वर्सेस अरविंद केजरीवाल, ममता, नीतीश और हर डाल पर पंछी बैठे हैं लेकिन मोदी का सामना करना मुश्किल है।

समान नागरिक संहिता पर भाजपा के साथ 
समान नागरिक संहिता से जुड़े सवाल के जवाब में अठावले ने कहा कि वे भाजपा के साथ है। देश में जनसंख्या नियंत्रण आवश्यक है और इसके लिए दो संतान का बिल लाना आवश्यक है। बिहार की राजनीतिक घटनाक्रम पर अठावले ने कहा कि नीतीश कुमार को हमने छोड़ा है, लेकिन 2024 में नीतीश कुमार वापस हमारे साथ आएंगे। 2024 के चुनाव में जीत का दावा करते हुए अठावले ने कहा कि भाजपा अपने दम पर 400 सीटें लाएगी और एनडीए 450 से अधिक सीटें जीतेगी।

महंगाई के मुद्दे पर राजस्थान सरकार को घेरा
राजस्थान विधानसभा चुनाव में उनकी पार्टी की भूमिका के सवाल पर उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी भाजपा का साथ देगी। महंगाई के मुद्दे पर अठावले ने राज्य सरकार पर निशाना साधा और कहा कि राज्य सरकार को पेट्रोल और डीजल पर लगने वाले वैट को कम करना चाहिए। केंद्रीय योजनाओं का गुणगान करते हुए अठावले ने कहा कि जन धन योजना उज्जवला योजना और अन्य योजनाओं से आम जनता को फायदा पहुंचा है।

दलित छात्र की मौत पर कहा :
जालोर में दलित स्कूली छात्र के मौत के मामले पर अठावले ने कहा कि वह परिवार से मिलकर आए हैं। उनके मंत्रालय की ओर से 8 लाख 50 हजार की आर्थिक सहायता पीड़ित परिवार को की जा रही है। तीन लाख रुपये की आर्थिक सहायता उनकी पार्टी रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया की ओर से दी जाएगी। अठावले ने राज्य सरकार से पीड़ित परिवार को 25 लाख की आर्थिक सहायता और एक सरकारी नौकरी देने की मांग की है। अठावले ने जालौर में संत की खुदकुशी के मामले की भी जांच की मांग की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here