राजभवन में कोरोना योद्धाओं का सम्मान! राज्यपाल ने दिया यह संदेश

कोरोना की पहली और दूसरी लहर को मात देने में जमीनी स्तर पर कोरोना योद्धाओं के कार्य और समर्पण को भूलाया नहीं जा सकता। ऐसे 30 कोरोना योद्धाओं को महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के हाथों सम्मानित किया गया। इस अवसर पर राज्यपाल ने कहा कि कोरोना की तीसरी लहर को रोकने के लिए सभी से जिम्मेदारी से काम करने की उम्मीद है। राज्यपाल ने कहा कि सभी के सहयोग से पिछले डेढ़ साल में कोरोना की पहली और दूसरी लहर पर काबू पाना संभव हुआ है। वे 2 अगस्त को राजभवन में अपने हाथों युवाओं में कौशल विकास और महिला सशक्तिकरण के क्षेत्र में कार्यरत संस्था साई लीला फाउंडेशन के कार्यक्रम में बोल रहे थे।

इस अवसर पर पूर्व राज्य मंत्री एवं गोरेगांव से विधायक विद्या ठाकुर, लोढ़ा फाउंडेशन की अध्यक्ष मंजू लोढ़ा, साई लीला फाउंडेशन की अध्यक्ष रश्मि उपाध्याय, ट्रस्टी महेश शेट्टी आदि उपस्थित थे।

राज्यपाल ने कहा कि जब देश संकट में था, तब आम से लेकर खास सभी लोगों ने परोपकार की भावना दिखाई। डॉक्टर, नर्स, पुलिस, सफाईकर्मी, वार्ड बॉय जैसे कोरोना योद्धाओं ने सेवा और समर्पण से काम किया। उनका यह कार्य देश को आत्मनिर्भरता की राह पर ले जाएगा। राज्यपाल ने आशा व्यक्त की कि सुरक्षित दूरी, मास्क और सैनिटाइजर के उपयोग के बारे में जागरूकता बढ़ेगी।

इस अवसर पर जयपुर इंडस्ट्री के जय नारायण अग्रवाल, इंडियन फिल्म्स एंड टीवी डायरेक्टर्स एसोसिएशन के सचिव कुकू कोहली, इंडियन मोशन पिक्चर्स एसोसिएशन की सुषमा शिरोमणि, सेवन हिल्स अस्पताल की डॉ शेफाली केशरवानी, केईएम अस्पताल के कार्डियोलॉजिस्ट डॉ. धीरज कुमार, डॉ.सिद्धनाथ दुबे, डॉ. प्रज्ञा कुलकर्णी, राज श्रीवास्तव,
मिहिर भोइर, प्रोफेसर प्रशांत नवाथे, आशा सेविका उज्ज्वला नेमन और उषा खराडे, स्वास्थ्य सेविका प्रियंका वाधवा, सीमा ओटेकर, नीता कालडोके, वर्षा गरवारे, उर्वशी बिहारे और उन्नति टोडनकर, मुंबई महानगरपालिका के कर्मचारी रवि सोलंकी, वार्डबॉय शंकर मुंसे, सनदी लेखापाल, इमरान गफ्फार पिराणी, ताराबाई राजवंशी, प्रसाद कदम, संतोष वासुदेव नारकर, महेश पवार, कमलेश सदानंद मौर्य, लक्ष्मण नाडर और अरविंद दुबे को सम्मानित किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here