रद्द नहीं होगी 12वीं की परीक्षा, केंद्र ने राज्यों को दिए ये विकल्प!

कोरोना काल में विद्यार्थियों की परीक्षाओं का आयोजन बहुत बड़ा सिरदर्द बना हुआ है। 12वी के साथ ही अन्य परीक्षाओं के आयोजन पर विचार करने के लिए 23 मई को एक वर्चुअल बैठक का आयोजन किया गया।

केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और अन्य कंद्रीय मंत्रियों, शिक्षा राज्य मंत्री, विभिन्न राज्यों के शिक्षा मंत्रियों और शिक्षा सचिवों के साथ 12वीं की स्थगित परीक्षाओं के आयोजन को लेकर वर्चुअल बैठक हुई। इस बैठक में केंद्र द्वारा राज्यों को दो विकल्प दिए गए। इनमें से पहला विकल्प कक्षा 12 के विद्यार्थियों को कुछ चयनित विषयों की परीक्षा में शामिल होना होगा। इसके बाद उन्हें इन विषयों के प्रदर्शन के आधार पर अन्य विषयों में अंक दिए जाएंगे। दूसरे विकल्प में 12वीं की परीक्षाओं का आयोजन किया जाएगा, लेकिन एग्जाम पैटर्न में बदलाव करना होगा। इसमें परंपरागत 3 घंटे के विभिन्न प्रकार के प्रश्नों की बजाय 1.5 घंटे का एक ही पेपर होगा और इसमें केवल बहुविकल्पीय प्रश्न होंगे।

1 जून को घोषणा
सीबीएसई बोर्ड द्वारा परीक्षाओं को लेकर तारीखों की घोषणा और एग्जाम पैटर्न की 1 जून को घोषणा की जाएगी। इसी तरह प्रवेश परीक्षाओं जेईई मेन, नीट आदि का भी आयोजन किया जाएगा। दिल्ली के शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने केंद्र सरकार द्वारा सुझाए गए इन दोनों ही विकल्पों का विरोध किया है।

ये भी पढ़ेंः दिल्ली एक और सप्ताह के लिए लॉकडाउन! केजरीवाल ने कही ये बात

अन्य स्थगित परीक्षाओं पर भी किया गया विचार
बैठक में केंद्रीय बोर्ड- सीबीएसई और सीआईएससीई की 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं के साथ ही जेईई मेन और नीट(यूजी) 2021 तथा अन्य एंट्रेंस एग्जाम के आयोजन पर भी विचार किया गया। बैठक में दोनों केद्रीय मंत्रियों के साथ ही महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी, सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर, शिक्षा राज्य मंत्री संजय धोत्रे और देश भर के सभी राज्यों तथा केंद्र शासित प्रदेशों के शिक्षा मंत्रियों व शिक्षा सचिवों ने भाग लिया।

शिक्षा मंत्री ने मांगे थे सुझाव
बता दें कि इससे पहले भी केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल की अध्यक्षता में इस विषय पर बैठक हुई थी। पोखरियाल ने सभी राज्यों से सुझाव मांगे थे। इस बैठक में सभी राज्यों के शिक्षा सचिवों को शामिल होने के निर्देश दिए गए थे।

ये भी पढ़ेंः कांग्रेसी राज्य से संबित पात्रा को नोटिस… ये है प्रकरण

सीबीएसई की 10वीं की परीक्षाएं रद्द
बता दें कि देश में अप्रैल के पहले हफ्ते में कोरोना महामारी की दूसरी लहर के मद्देनजर बोर्ड परीक्षाओं समेत अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं को भी स्थगित कर दिया गया था। इसके तहत सीबीएसई बोर्ड ने 10वीं की परीक्षाओं को रद्द करके इंटरनल असेसमेंट के आधार पर प्रमोट करने का निर्णय लिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here