जानिये, सीरम के टीके की कीमत 250 से बढ़कर क्यों हो गई 600 रुपये!

सीरम इंस्टीट्यूट ने टीके की कीमत बढ़ाने का फैसला किया है। 20 अप्रैल तक निजी अस्पतालों के लिए जो टीका 250 रुपये में उपलब्ध था, अब 600 रुपये में मिलेगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 1 मई से, 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों के टीकाकरण की घोषणा की है। इस घोषणा के मात्र दो दिन बाद पुणे के कोविशील्ड वैक्सीन निर्माता सीरम इंस्टीट्यूट ने टीके की कीमत बढ़ाने का फैसला किया है। 20 अप्रैल तक निजी अस्पतालों के लिए जो वैक्सीन 250 रुपये में उपलब्ध थी, अब 600 रुपये में मिलेगी।

राज्य सरकारों और निजी अस्पतालों में 50% टीकाकरण!
सीरम ने एक प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से इस बारे में जानकारी दी है। विज्ञप्ति में बताया गया है, ‘केंद्रीय वित्त व स्वास्थ्य मंत्रालय ने देश में टीकाकरण अभियान का दायरा बढ़ा दिया है। हम इस तथ्य का भी स्वागत करते हैं कि एक बार टीके का उत्पादन करने के बाद, हमें सीधे राज्यों, निजी अस्पतालों और कोविड केंद्रों को देने की अनुमति दी जाती है। अगले 2 महीनों में हम टीके के उत्पादन की क्षमता में वृद्धि करेंगे। कुल टीका उत्पादन में से 50 प्रतिशत  केंद्र सरकार को और 50 प्रतिशत राज्य सरकारों व निजी अस्पतालों को दिया जाएगा।’

ये भी पढ़ेंः नासिक में ऑक्सीजन टैंक लिक होने से 22 लोगों की मौत,40 की हालत गंभीर

अन्य देशों की अपेक्षा सस्ता
सीरम ने प्रेस विज्ञप्ति में कहा, “भले ही हमने अपने टीके की कीमत बढ़ा दी है, लेकिन यह दुनिया भर के अन्य टीकों की तुलना में अभी भी सस्ता है।’

कोविशील्ड की होगी इतनी कीमत

  • यह टीका राज्य सरकारों को 400 रुपये में उपलब्ध कराया जाएगा
  • निजी अस्पतालों को यह 600 रुपये में उपलब्ध कराया जाएगा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here