जानिये, क्या है पीएम का ‘पीपल्स पद्म’!

प्रधानमंत्री ने ट्विट करते हुए कहा,'भारत में बहुत-से प्रतिभाशाली लोग हैं, जो जमीनी स्तर पर काम कर रहे हैं। प्रायः ऐसे लोगों के बारे में जानकारी भी नहीं मिल पाती। क्या आप ऐसे प्रेरित करने वाले लोगों को जानते हैं? आप उन्हें पद्म भूषण के लिए नामांकि कर सकते हैं।'

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 11 जुलाई को देशवासियों से कहा कि वे पद्मभूषण पुरस्करों के लिए प्रेरणादायी लोगों के नाम सुझाएं। पीएम ने इसे ‘पीपल्स पद्म’ नाम दिया है। पद्म भूषण के लिए नामांकन की अंतिम तारीख 15 सितंबर निश्चित की गई है।

प्रधानमंत्री ने ट्विट करते हुए कहा,’भारत में बहुत-से प्रतिभाशाली लोग हैं, जो जमीनी स्तर पर काम कर रहे हैं। प्रायः ऐसे लोगों के बारे में जानकारी भी नहीं मिल पाती। क्या आप ऐसे प्रेरित करने वाले लोगों को जानते हैं? आप उन्हें पद्म भूषण के लिए नामांकि कर सकते हैं।’

प्रधानमंत्री ने की अपील
पीएम ने अपने ट्वीट के साथ ही बेवसाइट का लिंक भी दिया है। इस पर लोग किसी प्रेरणादायी हस्ती को नामांकित कर सकते हैं। सरकार ने लोगों को सेल्फ नामांकन का विकल्प दिया है। प्रधानमंत्री ने यह ट्विट ऐसे समय में किया है, जब केंद्र ने जमीनी स्तर पर काम करे लोगों की पहचान का प्रयास शुरू किया है। केंद्रीय मंत्रालय ने सभी केंद्रीय मंत्रियों, राज्यों और अन्य पुरस्कार विजेंताओं से अनुरोध किया है कि वे ऐसे लोगों के बारे में जानकारी दें, जिन्हें पहचान दी जानी चाहिए।

‘मन की बात’ में कही थी ये बात
पीएम ने जनवरी में इस साल के अपने पहले रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ में अनुरोध किया था कि वे देश के उन वीरों के बारे में पढ़ें, जिनके बारे में बहुत कम लोग जानते हैं। बता दें कि पद्य भूषण और पद्म श्री पुरस्कार देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान हैं। इनकी शुरुआत वर्ष 1945 में हुई थी। इन पुरस्करों की घोषणा हर वर्ष गणतंत्र दिवस के अवसर पर की जाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here