सब कह रहे हैं कि आज मां का दिन है पर कोई ये बताए, कौन-सा दिन मॉं के बिन है..!

मां के बिना जिंदगी वीरान होती है। तन्हा सफर में हर राह सुनसान होती है। जिंदगी में मां का होना जरूरी है, मां की दुआओं से हर मुश्किल आसान हो जाती है।

जब एक रोटी के चार टुकड़े हों और घर में खानेवाले हो पांच, तो मुझे भूख नहीं है ऐसा कहने वाली होती है “मॉं”। जिस घर में कोई तख्ती भी नहीं होती, उस घर को सजाने में मॉं अपनी सारी उम्र गुजार देती है। मॉं अपने आप में ही एक ऐसा शब्द है, जिसे किसी भी उपमा की जरूरत नहीं है। वह ऐसी शख्सियत है, जो बच्चों की तकलीफों को बिना बताए ही जान जाती है। मॉं की ममता वो नींव का पत्थर है, जिस पर एक बच्चे के भविष्य की इमारत खड़ी होती है। कोई बच्चा जब जन्म लेता है, तो उसकी जिंदगी का पहला एहसास मॉं की ममता ही होती है। इसीलिये किसी ने लिखा है,

जिंदगी मॉं जैसी होनी चाहिए,
किसी को फर्क नहीं पड़ता कि उसकी मॉं कैसी है?
बस, उसकी मॉं जग में सबसे अच्छी है, यही एहसास सदा होता है।

सांसों का नाता
बच्चे का मां से सिर्फ जन्म का ही नहीं, सांसों का नाता होता है। बच्चा जब पहली बार सांस लेता है, तभी से उसके जीवन की डोर मां से बंध जाती है। ऐसा माना जाता है कि भगवान हर जगह नहीं जा सकते थे या यूं कहें कि वे सबके जीवन में एक-साथ उपलब्ध नहीं रह सकते थे, इसलिए उन्होंने मां को बनाया। मां हर एक व्यक्ति के जीवन की वह महिला होती है, जिसमें नि:स्वार्थ प्रेम, धैर्य, क्षमा, दया सरलता और दृढ़ता अनायास ही भरी होती है। तभी तो कहते हैं, हर बच्चे के जन्म के साथ एक मॉं का पुनर्जन्म होता है।

ये भी पढ़ें – सांसद नवनीत राणा के स्वास्थ्य में सुधार नहीं! जानिये, क्या है परेशानी

अच्छा इंसान बनने की देती है प्रेरणा
मॉं जीवन की पहली शिक्षिका है, जो हमें जीवन की अच्छी या बुरी चीजों के बारे में सिखाती है, साथ ही वह अपने बच्चे को भविष्य के आनेवाले हर संघर्ष के लिए तैयार करती है, उसे अच्छा इन्सान बनने की प्रेरणा देती है। हालांकि ‘मदर्स डे’  के लिए दिन निर्धारित किया गया है, जबकि इसे हर समय, हर दिन मनाने की जरूरत है, क्योंकि हमारे जीवन में हमारी मॉं के प्रयासों की तुलना किसी से नहीं की जा सकती। मॉं के प्रेम को सिर्फ महसूस किया जा सकता है और उनका होना ही हमारे जीवन में ईश्वर के वरदान की तरह है, जो लोग मॉं के प्रेम से वंचित होते हैं, वे वास्तव में जीवन की बड़ी उपलब्धि से वंचित रह जाते हैं।

हर मुश्किल आसान होती है

मॉं के बिना जिंदगी वीरान होती है।
तन्हा सफर में हर राह सुनसान होती है।
जिंदगी में मां का होना जरूरी है, मां की दुआओं से हर मुश्किल आसान होती है।

आकांक्षा सिन्हा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here