टीका लगवा लेने वालों पर बैंक मेहरबान! आप भी उठा सकते हैं लाभ

देश के सरकारी बैंक लोगों को टीका लगवाने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए बड़े कदम उठा रहे हैं। इन बैंकों ने जहां ऐसे लोगों को कर्ज देने में शर्तो को पहले की अपेक्षा आसान बना दिया है, वहीं एफडी पर भी ज्यादा ब्याज देने की घोषणा की है।

अगर आपको बैंकों से कर्ज लेना है या फिक्स्ड डिपोजिट करनी है तो आपके लिए खुशखबरी है। देश के सरकारी बैंक लोगों को टीका लगवाने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए बड़े कदम उठा रहे हैं। इन बैंकों ने जहां ऐसे लोगों को कर्ज देने में शर्तो को पहले की अपेक्षा आसान बना दिया है, वहीं एफडी पर भी ज्यादा ब्याज देने की घोषणा की है।

अधिकृत सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार सरकारी बैंकों ने जहां कर्ज देने की शर्तें आसान कर दी हैं, वहीं एफडी पर 30 बेसिस पॉइंट्स यानी 0.30 प्रतिशत अधिक ब्याज दर देने की घोषणा की है। यह लाभ उन लोगों को ही उपलब्ध होगा, जिन लोगों ने वैक्सीन की कम से कम एक डोज ले ली है।

एक पंथ दो काज
बैंक अधिकारियों का कहना है कि इससे जहां वे अधिक से अधिक लोगों को कर्ज और एफडी के लिए आकर्षित करना चाहते हैं, वहीं वे देश में कोरोना रोधी टीकाकरण की रफ्तार बढ़ाने में भी सहयोग देना चाह रहे हैं। इसलिए वे कई कर्ज लेने या एफडी करने के इच्छुक लोगों को टीका लगवाने की भी सलाह दे रहे हैं। गौर करने वाली बात यह भी है कि बैंक सीमित अवधि के लिए 30 सितंबर तक यूकोवैक्सी-999 का ऑफर दे रहे हैं।

नए ऑफर की मैच्योरिटी
सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया ने हाल ही में टीकाकरण कराने वालों के लिए लागू कार्ड दर से 25 बेसिस पॉइंट्स की अतिरिक्त ब्याज दर के साथ इम्यून इंडिया डिपॉजिट स्कीम शुरू की है। बैंक ने अपने बयान में कहा है कि नए ऑफर की मैच्योरिटी 1,111 दिनों की है।

ये भी पढ़ेंः अब जम्मू को चाहिए वह दर्जा और कश्मीर के लिए भी आए ऐसे सुझाव

टीकाकरण को मिल रही है रफ्तार
इस बीच देश में वैक्सीन लेने वालों की कुल संख्या 23.60 करोड़ के करीब पहुंच गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घोषणा की है कि 18 वर्ष से ज्यादा उम्र के सभी लोगों के लिए केंद्र सरकार मुफ्त वैक्सीन उपलब्ध कराएगी और देश में 21 जून से यानी अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस से इस उम्र के लोगों का केंद्र की ओर से मुफ्त टीकाकरण शुरू किया जाएगा। इस दौरान पीएम ने विपक्ष की ओर इशारा करते हुए कहा कि लोग वैक्सीन पर भ्रम न फैलाएं और लोगों की जिंदगी से खिलवाड़ न करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here